ग्लैंड में होने वाले आगामी वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया का ऐलान सोमवार को कर दिया गया। विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम इस वर्ल्ड कप में उतरेगी। उप-कप्तान रोहित शर्मा होंगे जबकि विकेटकीपर का जिम्मा अनुभवी महेंद्र सिंह धोनी को सौंपा गया है।

ICC-WORLD-CUP-PLAYER-LIST


टीम में दिनेश कार्तिक और विजय शंकर को भी शामिल किया गया है जबकि अंबाती रायुडू और युवा ऋषभ पंत को जगह नहीं मिली है

» विराट ले सकते हैं बैठक में हिस्सा

मुंबई में 15 अप्रैल को होने वाली बैठक में भारतीय कप्तान विराट कोहली भी हिस्सा ले सकते हैं, इसी दिन मुंबई में आईपीएल का रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोरऔर मुंबई इंडियंस के बीच मैच होना है। विराट कोहली आरसीबी के कप्तान हैं। भारत ने आखिरी बार वर्ष 2011 में वर्ल्ड कप जीता था।

भारत की 15 सदस्यीय टीम: विराट कोहली (कप्तान), जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल, शिखर धवन, एमएस धौनी (विकेटकीपर), रविंद्र जडेजा, केदार जाधव, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), भुवनेश्वर कुमार, हार्दिक पांड्या, केएल राहुल, मोहम्मद शमी, विजय शंकर, रोहित शर्मा और कुलदीप यादव।




» आईपीएल का प्रदर्शन नहीं रखता मायने

उन्होंने यह भी कहा कि चयन समिति के लिए इंडियन प्रीमियर लीग में खिलाड़ियों का प्रदर्शन मायने नहीं रखता है। चयन समिति प्रमुख ने कहा, “हमने किसी खिलाड़ी को लेकर अपना पहले से मन नहीं बनाया है, जिन्हें वर्ल्ड कप टीम में होना चाहिए। समिति ने पहले ही 20 खिलाड़ियों का चयन कर लिया है जिनमें से टीम चुनी जाएगी। हम आगे इन खिलाड़ियों की फॉर्म को परखेंगे।”

इसके अलावा कप्तान विराट ने भी मौजूदा आईपीएल टूनार्मेंट शुरू होने से पहले साफ किया था कि टी- 20 लीग टूनार्मेंट में खिलाड़ियों का प्रदर्शन वर्ल्ड कप टीम में जगह बनाने के लिहाज से कोई मानक नहीं होगा, क्योंकि इंग्लैंड की परिस्थितियां बिल्कुल अलग होने वाली


» भारत ने आखिरी वर्ल्ड कप 2011 में जीता था

भारत ने अपना आखिरी वर्ल्ड कप 2011 में जीता था लेकिन इंग्लैंड में टीम एक बार फिर खिताब की प्रबल दावेदारों के तौर पर उतरेगी। हालांकि पिछले काफी समय से टीम संयोजन को लेकर चयनकर्ताओं में माथापच्ची चल रही है जबकि कप्तान विराट भी अलग अलग सीरीज़ में विभिन्न संयोजनों को लेकर प्रयोग कर चुके हैं जिनमें मध्यक्रम में चौथे नंबर पर बल्लेबाज को लेकर स्थिति अब भी साफ नहीं है।


» तेज गेंदबाजी आक्रमण पर भी निगाहें

टीम चयन में तेज गेंदबाजी आक्रमण पर भी निगाहें रहेंगी, जिनमें जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार तीनों प्रबल दावेदार देखे जा रहे हैं। इसके अलावा पांड्या भी तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर हैं जो पार्ट टाइम तेज गेंदबाज की भूमिका निभा सकते हैं।


आपका जवाब,

इन सारी बातों को जानने के बाद आप भारतीय टीम के लिए क्या सोचते हैं।  क्या भारतीय टीम का चयन सही हैं, क्या इस बार फिर से भारतीय टीम वर्ल्ड कप के जीत के दावेदारी पेश करेगी।  आप हमें कमेंट करके जरूर बताइएं